Saturday, April 20, 2024
Secondary Education

यू-डायस प्रपत्र के माध्यम से कुंडली तैयार कराई जा रही है

जिले के इंटरमीडिएट तक के कालेजों की यू-डायस प्रपत्र के माध्यम से कुंडली तैयार कराई जा रही है। इसको लेकर प्रधानाचार्य रुचि नहीं दिखा रहे हैं। इसका नतीजा है कि पचीस जून तक 264 विद्यालयों ने इसे भरने की शुरुआत तक नहीं की थी। इसको गंभीरता से लेते हुए बेसिक शिक्षाधिकारी ने शनिवार को छह परिषदीय विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों-प्रभारी प्रधानाध्यापकों का वेतन अग्रिम आदेश तक रोक दिया। जबकि अन्य संबंधित विद्यालयों को नोटिस जारी कर 30 जून तक प्रपत्र पूरा करने का निर्देश दिया है। हिदायत दिया कि न भरने की दशा में उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

जिले में बेसिक एवं माध्यमिक से संचालित राजकीय, वित्तपोषित और वित्तविहीन विद्यालयों के अलावा संस्कृत विद्यालयों, नवोदय विद्यालय, मदरसा, केंद्रीय विद्यालय एवं अंग्रेजी माध्यम के विद्यालयों को यूनीफाइड डिस्ट्रिक्ट इनफार्मेशन सिस्टम फार एजुकेशन (यू-डायस) प्रपत्र में विद्यालय की संपूर्ण जानकारी भरनी होती है। प्रत्येक विद्यालय को अपने विद्यालय की सारी सूचनाओं को डाटा कैप्चर फार्मेट पर पूर्ण कर यू-डायस पोर्टल पर इंट्री कराना अनिवार्य किया गया था। इसके बावजूद बड़ी संख्या में विद्यालयों ने इसे पूरा नहीं किया। जिले में इंटर तक के कुल 5976 विद्यालय हैं। इसमें 5250 ने यू-डायस प्रपत्र भरा है। इसमें जखनिया ब्लाक के 476, नगर क्षेत्र 136, सैदपुर 350, देवकली 424, मनिहारी 450, मरदह 343, कासिमाबाद 411, सादात 387 तथा जमानिया विकासखंड के 305 विद्यालय हैं। इसके अलावा बाराचवर 178, भदौरा 221, सदर 348, करंडा 238, बिरनो 280, भांवरकोल 194, मुहम्मदाबाद 308 एवं रेवतीपुर ब्लाक क्षेत्र के 201 विद्यालयों ने प्रपत्र पूरा किया है। अभी 462 विद्यालयों की तरफ से इसे भरा जा रहा है। हैरानी की बात तो यह है कि काफी समय बीत जाने के बाद भी 264 विद्यालयों ने इसे भरने की जहमत तक नहीं उठाई है।
जखनिया के सबसे ज्यादा विद्यालयों ने नहीं की शुरुआतगाजीपुर। यू-डायस प्रपत्र भरने की शुरुआत न करने वाले सबसे ज्यादा विद्यालयों की संख्या जखनिया ब्लाक में है। जखनिया में 45, सैदपुर 29, देवकली 10, मनिहारी शून्य, मरदह शून्य, कासिमाबाद शून्य, सादात 14 तथा जमानिया ब्लाक के 29 विद्यालय हैं। इसके अलावा बाराचवर 21, भदौरा पांच, नगर क्षेत्र 29, सदर 18, करंडा 17, बिरनो 18, भांवरकोल आठ, मुहम्मदाबाद 16 तथा रेवतीपुर विकासखंड क्षेत्र के पांच विद्यालय ने इस प्रपत्र को भरने की अभी तक शुरुआत भी नहीं की है।माध्यमिक के 70 विद्यालयों ने नहीं भरा प्रपत्रगाजीपुर। जिले में माध्यमिक के 1124 में 28 राजकीय विद्यालय, 96 वित्तपोषित, 924 वित्तविहीन, 74 मदरसा और एक-एक नवोदय और  केंद्रीय विद्यालय संचालित हो रहे हैं। राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के सहायक वित्त एवं लेखाधिकारी आशीष कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि अब तक 70 विद्यालयों ने यू-डायस प्रपत्र पूरा नहीं किया है। ये सभी वित्तविहीन विद्यालय हैं।

admin

Up Secondary Education Employee ,Who is working to permotion of education

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *