Sunday, March 3, 2024
Secondary Education

प्रदेश के एक करोड़़ युवाओं को जहां टैबलेट देगी वहीं 16 लाख कर्मचारियों और 12 लाख पेंशनर्स को 28 फीसदी मंहगाई भत्ता 1 जुलाई 21 से देगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बृहस्पतिवार को विधानसभा में अनुपूरक बजट पर चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि सरकार यह अनुपूरक बजट प्रदेश के युवाओं को समर्पित कर रही है। प्रदेश के एक करोड़़ युवाओं को जहां टैबलेट देगी वहीं १६ लाख कर्मचारियों और १२ लाख पेंशनर्स को २८ फीसदी मंहगाई भत्ता १ जुलाई २१ से देगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना काल में ग्रामीण क्षेत्रों के कर्मचारियों ने अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभायी‚ जिससे सरकार इनके मानदेय में वृद्धि करने जा रही है। ॥ मुख्यमंत्री ने कहा कि यह अनुपूरक बजट अन्नदाता किसानों और कोरोना वारियर्स व युवाओं को समर्पित है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के एक करोड़़ नौजवानों को टेबलेट उपलब्ध कराने जा रहे हैं। इसके लिए ३ हजार करोड़़ का फंड़ गठित किया गया है। इसी क्रम में सरकार १६ लाख कर्मचारियों और १२ लाख पेंशनर्स के लिए १ जुलाई से २१ से महंगाई राहत का १७ फीसदी के साथ ११ फीसदी और मिलाकर कुल २८ फीसदी महंगाई भत्ते का भुगतान करेंगे। इससे सरकार के खजाने पर करीब ६५०० करोड़ सालाना का व्ययभार बढ़ेगा। ॥ श्री योगी ने कहा कि सरकार का ध्यान कर्मचारियों के साथ ही उन बेरोजगार नौजवानों पर भी है‚ जिनको प्रतियोगी परीक्षा में आने–जाने के लिए दिक्कत होती है। सरकार उन सभी बेरोजगारों को जो कहीं भी प्रतियोगी परीक्षा के लिए जायेंगे‚ उन्हें वर्ष में तीन बार आने–जाने के लिए यात्रा भत्ता देगी। सरकार पहली बार संस्कृत के छात्रों को भी छात्रवृत्ति देने जा रही है। विपक्ष के एक सदस्य की टिप्पणी पर मुख्यमंत्री ने कहा कि संस्कृत विद्यालयों में रिक्त पदों को भरने का वह पहले ही आदेश दे चुके हैं। योगी ने कहा कि अब दौर बदल गया है। अब माफिया को जो भी साथ लेकर जाएगा‚ उसे मालूम है कि पीछे पीछे बुलड़ोजर भी आएगा। हमारी सरकार ने माफिया की १५०० करोड़़ रुपये की संपत्ति जब्त की है। माफिया ने जो जमीनें कब्जा की हैं‚ उन पर अब गरीबों के लिए सरकार घर बनवायेगी॥। विपक्ष के सवालों पर योगी ने कहा कि पिछले साढ़े चार साल के दौरान प्रदेश में बजट का दायरा लगभग दोगÙना बढ़ा है। उन्होंने कहा कि जीड़ीपी पांच साल पहले १०–११ लाख करोड़ के आसपास थी। आज हम इसे २०–२१ लाख करोड़ तक ले आए। २०१५–१६ में उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था देश में ६वें नंबर पर थी‚ आज यह देश में नंबर २ की अर्थव्यवस्था बनी है। यह पहली महामारी है जिसमें एक भी गरीब भूखा नहीं मरा। हमें महामारी को तो स्वीकार करना होगा। नहीं तो बीमारी के उपचार के लिए और बीमारी से बचाव के लिए कोई अभियान आगे नहीं बढ़ पाएगा। ॥ पर बनेंगे गरीबों के लिए आवासः योगी –पेज १२॥ दतीन प्रतियोगी परीक्षाओं में भाग लेने को युवाओं को मिलेगा भत्ता ॥ दवकीलों की सुरक्षा निधि डेढ़ लाख से बढ़कर ५ लाख हुई॥ दपहली बार संस्कृत के छात्रों को भी मिलेगी छात्रवृत्ति॥

admin

Up Secondary Education Employee ,Who is working to permotion of education

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *