दिवाली से पहले बोनस भुगतान करने की योजना

दिवाली

दिवाली बोनस भुगतान अ‎धिनियम, 1965 उन ‎निश्चित प्र‎तिष्ठानों में कर्मचा‎रियों को बोनस भुगतान मुहैया कराता है जहां 20 या उससे अ‎धिक कर्मचारी काम करते हैं, और यह बोनस लाभ के आधार पर अथवा उत्पादन या उत्पादकता तथा संबं‎धित मामलों के आधार पर होता है।इस अ‎धिनियम की धारा 10 के अंतर्गत प्रत्येक उद्योग एवं संस्थानों द्वारा न्यूनतम 8.33% बोनस देय है। ‎किसी ‎वित्तीय वर्ष में भुगतान ‎किया जाने वाला अ‎धिकतम बोनस ‎जिसमें उत्पादकता से जुडा बोनस भी शा‎मिल होता है, वह इस अ‎धिनियम की धारा 31ए के अंतर्गत ‎किसी कर्मचारी के वेतन/पा‎रिश्र‎मिक के 20% से अ‎धिक नहीं होगा।

         राज्य सरकार अपने कर्मचारियों के हितों को ध्यान में रखकर प्रत्येक वर्ष बोनस का भुगतान करती है, योगी सरकार दिवाली के त्योहार से पहले राज्यकर्मचारियों बड़ा तोहफा देने जा रही है. सीएम योगी आदित्यनाथ दिवाली से पहले राज्य कर्मियों को केंद्रीय कर्मियों की तरह चार फीसदी महंगाई भत्ता देने की तैयारी में हैं. साथ ही सरकार ने राज्यकर्मियों को दिवाली से पहले बोनस देने की तैयारी भी कर ली है. यूपी सरकार दीपावली से पहले बोनस और महंगाई भत्ता देने की घोषणा कर चुकी हैं     अराजपत्रित कर्मचारियों को बोनस और सभी राज्य कर्मचारियों व शिक्षकों को बढ़ी दर से महंगाई भत्ता दिए जाने की योजना है.इससे  राज्य सरकार के खजाने पर हर महीने 300 करोड़ रुपए का व्ययभार आएगा. बोनस की राशि अधिकतम सात हजार रुपए होगी.  प्रत्येक अराजपत्रित कर्मचारी को अधिकतम 7000 रुपये बोनस दिया जाने की सुचना मिली है. यूपी में अराजपत्रित कर्मचारियों की संख्या 14.82 लाख के करीब है.

          केंद्र सरकार की भांति  राज्य कर्मचारियों को चार फीसदी महंगाई भत्ता देने का ऐलान किया  योगी सरकार ने किया है।अब राज्य कर्मचारियों का डीए 42 फीसदी से बढ़कर 46 फीसदी हो जाएगा. डीए वृद्धि का लाभ करीब 10 लाख राज्यकर्मियों, आठ लाख शिक्षकों और पेंशनरों को मिलेगा.

परिचय

दिवाली भारत का सबसे बड़ा त्योहार है। यह त्योहार प्रकाश और खुशी का त्योहार है। इस त्योहार पर, लोग अपने परिवार और दोस्तों के साथ समय बिताते हैं और उपहार देते हैं।

दिवाली से पहले, कई कंपनियां अपने कर्मचारियों को बोनस देती हैं। यह बोनस कर्मचारियों के लिए एक महत्वपूर्ण आर्थिक लाभ होता है। यह कर्मचारियों को अपने परिवारों के साथ दिवाली मनाने में मदद करता है।

बोनस भुगतान की योजना

कई कंपनियां दिवाली से पहले बोनस भुगतान की योजना बनाती हैं। इस योजना में निम्नलिखित बातें शामिल होती हैं:

  • बोनस की राशि: बोनस की राशि कंपनी की वित्तीय स्थिति और कर्मचारियों के प्रदर्शन के आधार पर तय की जाती है।
  • बोनस का भुगतान: बोनस का भुगतान आमतौर पर दिवाली से पहले एक महीने के भीतर किया जाता है।
  • बोनस का भुगतान कैसे किया जाएगा: बोनस का भुगतान आमतौर पर बैंक खाते में सीधे जमा करके किया जाता है।

बोनस भुगतान के लाभ

बोनस भुगतान के कई लाभ हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • कर्मचारियों की प्रेरणा: बोनस भुगतान कर्मचारियों को प्रेरित करता है और उन्हें बेहतर प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित करता है।
  • कर्मचारियों की संतुष्टि: बोनस भुगतान कर्मचारियों की संतुष्टि बढ़ाता है और उन्हें कंपनी के प्रति अधिक वफादार बनाता है।
  • कंपनी की छवि: बोनस भुगतान कंपनी की छवि में सुधार करता है और इसे एक अच्छी नियोक्ता के रूप में स्थापित करता है।

निष्कर्ष

दिवाली से पहले बोनस भुगतान एक अच्छा तरीका है कर्मचारियों को खुश करने और उनकी प्रेरणा बढ़ाने का। यह कंपनी की छवि में भी सुधार करता है।

NPS कटौती करने हेतु लगाएंगे कर्मचारियों के नियम विरुद्ध कृत्य पर कार्रवाई करने के संबंध में

विशेष रूप से, दिवाली से पहले बोनस भुगतान करने की योजना के लिए निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना चाहिए:

  • बोनस की राशि तय करते समय कंपनी की वित्तीय स्थिति को ध्यान में रखना चाहिए।
  • बोनस का भुगतान समय पर करना चाहिए।
  • बोनस का भुगतान करने के लिए एक स्पष्ट और पारदर्शी प्रणाली होनी चाहिए।

इन बातों का ध्यान रखकर, कंपनियां दिवाली से पहले बोनस भुगतान कर सकती हैं और अपने कर्मचारियों को खुश कर सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *