Saturday, April 20, 2024
Secondary Education

दशहरे से पहले दिवाली का तोहफा

दशहरे से पहले दिवाली का तोहफा

सरकार ने कर्मचारियों को दशहरे से पहले दिवाली का तोहफा दिया है. दशहरे से ठीक पहले कैबिनेट ने  मंहगाई भत्ते मंजूरी देकर साफ कर दिया कि अक्टूबर की सैलरी में केंद्रीय कर्मचारियों को उन्हें एक्स्ट्रा पैसा मिल जाएगा त्योहारों में कर्मचारियों के लिए ये बड़ा तोहफा है. महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की बढ़ोतरी को मंजूरी मिल गई है. बुधवार को कैबिनेट (Cabinet Meeting on DA Hike) ने इसे मंजूरी दी. अब केंद्रीय कर्मचारियों को 46 फीसदी की दर से महंगाई भत्ता (DA Hike Central Government Employees) मिलेगा. इसे 1 जुलाई 2023 से लागू किया गया है. इसका फायदा 48 लाख से ज्यादा केंद्रीय कर्मचारी और करीब 65 लाख पेंशनर्स को मिलेगा.कर्मचारी और पेंशनर्स को अब महंगाई भत्ते की नई दरों का भुगतान होगा. अक्टूबर के वेतन के साथ ही नई दरें जोड़कर दी जाएंगी. इसमें जुलाई, अगस्त, सितंबर का पैसा भी शामिल होगा. साल की दूसरी छमाही के लिए महंगाई भत्ता बढ़ाया गया है. 4 फीसदी के उछाल के साथ महंगाई भत्ता 42 फीसदी से बढ़कर 46 फीसदी हो गया है. 

तोहफा

यह फायदा उन कर्मचारियों को मिला जो

7वें वेतन आयोग (7th pay commission) के पे-बैंड वाले हैं. कर्मचारियों को जुलाई, अगस्त, सितंबर के महंगाई भत्ते का एरियर (DA arrears) भी दिया जाएगा. एरियर उस अंतर का होगा, जो 42 फीसदी से 46 फीसदी के बीच बढ़ी दर है. महंगाई भत्ते (dearness allowance) की बढ़ी दरों के चलते सरकारी खजाने पर करीब 1257 करोड़ का वित्तीय बोझ आएगा. 

कर्मचारियों पर मेहरबान ‘लक्ष्मी’

कर्मचारियों के लिए अक्टूबर में महंगाई भत्ते (DA Hike Central Government Employees) का ऐलान होने पर साफ है इसका भुगतान भी अक्टूबर अंत तक हो जाएगा. मतलब नवंबर खासकर दिवाली का त्योहार कर्मचारियों के लिए बढ़िया रहने वाला है. महंगाई भत्ते के फायदे के अलावा कर्मचारियों को एडहॉक बोनस और रेलवे कर्मचारियों को दिवाली एनुअल बोनस का भी भुगतान होगा. ऐसे में दिवाली पर खर्च करने के लिए कर्मचारियों के पास अच्छा खासा पैसा होगा. इसके अलावा तीन महीने का एरियर भी मिलेगा.

NPS कटौती करने हेतु लगाएंगे कर्मचारियों के नियम विरुद्ध कृत्य पर कार्रवाई करने के संबंध में

पेंशनर्स भी उठाएंगे लुत्फ

केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते के अलावा पेंशनर्स के महंगाई राहत में भी जबरदस्त फायदा देखने को मिला है. उनके लिए भी समान दर 4 फीसदी से DR बढ़ाया गया है. ये भी 1 जुलाई 2023 से लागू होगा. पेंशनर्स को पेंशन के साथ DR की नई दरों का भुगतान होगा. पेंशनर्स के लिए महंगाई राहत भी 46 फीसदी पहुंच गई है.

परिचय

दशहरा और दिवाली भारत के दो प्रमुख त्योहार हैं। दशहरा बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है, जबकि दिवाली प्रकाश और खुशी का त्योहार है।

हाल ही में, केंद्र सरकार ने सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए एक बड़ा तोहफा दिया है। सरकार ने डीए और डीआर में 4% की बढ़ोतरी की है। यह बढ़ोतरी 1 जुलाई, 2023 से प्रभावी होगी।

डीए और डीआर में बढ़ोतरी के लाभ

डीए और डीआर में बढ़ोतरी सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए एक महत्वपूर्ण आर्थिक लाभ है। इससे उनकी सैलरी और पेंशन बढ़ जाएगी।

डीए और डीआर में बढ़ोतरी के निम्नलिखित लाभ हैं:

  • सैलरी और पेंशन में वृद्धि: डीए और डीआर में बढ़ोतरी से सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों की सैलरी और पेंशन में वृद्धि होगी। इससे उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।
  • जीवन स्तर में सुधार: डीए और डीआर में बढ़ोतरी से सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के जीवन स्तर में सुधार होगा। इससे वे बेहतर तरीके से जीवन जी सकेंगे।
  • खर्चों में कमी: डीए और डीआर में बढ़ोतरी से सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के खर्चों में कमी आएगी। इससे वे अपने पैसे का अधिक कुशलता से उपयोग कर सकेंगे।

दशहरा से पहले दिवाली का तोहफा

डीए और डीआर में बढ़ोतरी सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए एक दिवाली का तोहफा है। यह बढ़ोतरी उन्हें दशहरे के त्योहार पर खुशी और उत्साह का अनुभव कराएगी।

निष्कर्ष

डीए और डीआर में बढ़ोतरी एक महत्वपूर्ण आर्थिक पहल है। यह पहल सरकारी कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के जीवन स्तर में सुधार करने और उन्हें आर्थिक रूप से मजबूत बनाने में मदद करेगी।

admin

Up Secondary Education Employee ,Who is working to permotion of education

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *